Javascript is not currently enabled in your browser.
You must enable Javascript to run this web page correctly.

मुख पृष्ठ » प्रीमियम भुगतान » वैकल्‍पिक चैनल से भुगतान » LIC प्रीमियम संग्रह के वैकल्‍पिक चैनल
LIC प्रीमियम संग्रह के वैकल्‍पिक चैनल

एल.आई.सी.प्रीमियम संग्रह के वैकल्‍पिक चैनल

नच भुगतान (NACH)
 
प्रीमियम के भुगतान के लिए ई.सी.एस.सुविधा मार्च 2004 से एल.आई.सी.में शुरू की गई थी। यह एक ऐसी सुविधा है जिसके द्वारा प्रीमियम पूर्व निर्धारित तिथि पर बैंक द्वारा काट लिया जाता है और एल.आई.सी.को भेज दिया जाता है। भारतीय जीवन बीमा निगमने 09/11/2016 से के साथ नच मोड के लिए प्रीमियम कटौती की ईसीएस मोड के तहत पंजीकृत अपने सभी मौजूदा पोलिसी को माइग्रेट कर लिया है।

भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) एक इलेक्ट्रॉनिक भुगतान सेवा के रूप में कहा लागू किया गया है। नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस (नच) एक फंड क्लियरिंग प्लेटफॉर्म है जो एनपीसीआई द्वारा आर.बी.आई.के मौजूदा ई.सी.एस.के समान स्थापित किया गया है। आर.बी.आईने आदेश दिया है कि सभी व्यापारियों और वित्तीय संस्थानों को नचको अनिवार्य रूप से माइग्रेट करना होगा क्योंकि ई.सी.एस.को पूरी तरह से नचसे बदल दिया जाएगा।

नाच प्रणाली अन्तर्गत मँनडेटप्रपत्र एलआईसी की सर्विसिंग शाखा में हार्ड कॉपी के रूप में जमा किया जाना है ।

इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए प्रासंगिक शर्तें:

1. पॉलिसी की शुरुआत के समय या बाद में पॉलिसी पूरी होने के बाद नचकी सुविधा का लाभ उठाया जा सकता है।
2. नचमासिकमोड में, सामान्य मासिक मोड के तहत 5% अतिरिक्त प्रीमियम माफ किया जाता है।
3. नचमासिकमोड पोलिसी को के लिए कोई रसीद मुद्रित और प्रेषित नहीं की जाएगी।प्रीमियम पेड सर्टिफिकेट सर्विसिंग ब्रांच से साल में दो बार प्राप्त किया जा सकता है ।
4. पॉलिसीशर्तेंके अनुसार नच मोड योजना सभी चालू यूलिप, गैर यूलिप और स्वास्थ्य पोलिसी को के लिएचुना जा सकता है।
5. ई-टर्म पोलिसी को के लिए नचमोड की अनुमति नहीं है।
6. नचसुविधा का विकल्प चुनने के लिए, प्रीमियम तिथि कम से कम 1 महीने के बाद देय होना चाहिए।
7. नचके माध्यम से प्रीमियम का बकाया जमा नहीं किया जा सकता।
8. नचमोड के तहत पंजीकृत पोलिसी को के तहत, किसी भी अन्य भुगतान चैनल के माध्यम से प्रीमियम का भुगतान नहीं किया जा सकता।
9. ग्राहक के बैंक को नच डेबिट अस्वीकार किया जाता है तोप्रीमियम कटौतीनचमोडसे अपने आप स्थगित की जाएगी । इस स्थिति मे ग्राहक को प्रीमियम का भुगतान एलआईसी शाखा/ प्रीमियम प्वाइंट / एलआईसी ग्राहक पोर्टलपर करना होगा। भुगतानके बाद प्रीमियमकटौतीनचमोडसेस्वचालितहोजाएगी।
10. डेबिट दिनांकों अनुमति महीनेकी7, 15, 22और 28से की जाती है ।


डेबिट तिथियों की गणना प्रारंभ की तिथि के आधार पर स्वचालित रूप से की जाती है:
 
प्रारंभ होने की तिथि डेबिट तिथि
1 से 7तक उसी महीने की 7 तारीख
8से 15तक उसी महीने की 15 तारीख
16 से 22 तक उसी महीने की 22 तारीख
23 से 28 तक उसी महीने की 28 तारीख
इस सुविधा का लाभ कैसे उठाएं:

1. नच मँनडेट फार्म, विधिवत खाता धारक द्वारा हस्ताक्षरित साथ जांच पत्ती / खाता धारक के बैंक विवरण के सत्यापन के लिए पासबुक की प्रतिलिपि नेतृत्व रद्द साथ प्रस्तुत किया जाना चाहिए।
2. प्रत्येक पॉलिसी के लिए एक अलग मँनडेट फार्म देना होगा।
3. नचमासिक मोड मामलों के लिए, नई पोलिसी के लिए प्रीमियम की दो किस्तें एकत्र की जाएंगी । ये बैक डेटिंग मामलों के लिए प्रीमियम किस्तों के अतिरिक्त होंगे।
4. एल.आई.सी.कार्यालय में ग्राहकों द्वारा जमा किए गए सभी नचमँनडेट प्रपत्र स्कैनिंग के लिए एल.आई.सी.के नच "प्रायोजक बैंक" को भेजे जाएंगे।
5. प्रायोजक बैंक स्कैन की गई छवियों को एनपीसीआई प्लेटफॉर्म पर अपलोड करेगा।
6. ग्राहक का बैंक, बैंक के डेटाबेस में ग्राहक के विवरण के साथ नचमँनडेट की छवि से क्रेडेंशियल्स को मान्य करेगा । वैध पाए जाने पर ग्राहक का बैंक ग्राहक से प्राप्त नचमँनडेट को स्वीकार करेगा और प्रक्रिया में शामिल करने के लिए ग्राहक के नाच मँनडेट को स्वीकार करते हुए एसएमएस नचप्रक्रिया के तहत दी गई पॉलिसी के तहत भविष्य के सभी प्रीमियमों को डेबिट करने के लिए भेजा जाएगा।
यदि ग्राहक का बैंक नचमँनडेट की छवि में कोई विसंगति बताता है तो ग्राहक को पंजीकृत मोबाइल फोनपर एसएमएस के माध्यम से अस्वीकृति स्थिति की सूचना दी जाएगी। ऐसे अस्वीकारों में, ताजा नचमँनडेट प्रस्तुत किया जाना आवश्यक है।
7. बैंक विवरण में परिवर्तन के लिए, ताजा नचमँनडेटसर्विसिंग शाखा को प्रस्तुत किया जाना चाहिए।
8. पॉलिसी धारक को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि डेबिट खाते के समय बैंक खाते में पर्याप्त धनराशि उपलब्ध हो और मँनडेट का उल्लंघन न हो ।
9. मँनडेट अस्वीकृतिसे संबंधित किसी भी विवाद को ग्राहक के बैंक के साथ ही लिया जाना चाहिए।
10. प्रीमियम भुगतान की इस सुविधा का लाभ न केवल स्वयं की नीतियों के संबंध में लिया जा सकता है, बल्कि जीवनसाथी और बच्चों के जीवन पर जारी पॉलिसी पर भी लिया जा सकता है।

नच डिसहोनोर्ड :

नाच डिसहोनोर्ड के लिएएलआईसीपॉलिसी धारकको सूचित करने के लिए एक पत्र भेजता है। यदि कारण अपर्याप्त धनराशि / खाता बंद है, तो डिसहोनोर्ड शुल्क रु125/- जीएसटी के साथ देय प्रीमियम और विलंब शुल्क (यदि लागू हो) देय होगा।
यदि खाता बंद हैया ऐसा कोई खाता नहीं इस तरह केकारण सेदो बार नचवापस होता है, तोएलआईसी सर्विसिंग शाखाको ताजा नाच मँनडेट प्रस्तुत कर ना होगा।
  Click here for

 

नियम और शर्तें नाच नमूना मँनडेट फॉर्म - अंग्रेजी '  
   मँनडेट फार्म भरने के निर्देश दिए नच अनादर कारणों  
 
इलेक्ट्रॉनिक बिल प्रस्तुति और भुगतान (EBPP)
 

इलेक्ट्रॉनिक बिल प्रस्तुति और भुगतान (EBPP) किसी कंपनी द्वारा अपने ग्राहकों को भेजी गई स्टेटमेंट, बिल, इनवॉइस और संबंधित सूचनाओं की इलेक्ट्रॉनिक प्रस्तुति और सामान या सेवाओं के लिए संबंधित भुगतान है।

अधिकृत बैंक:

1. एचडीएफसी बैंक
2. आईसीआईसीआई बैंक
3. एक्सिस बैंक
4.फेडरल बैंक
5.कॉर्पोरेशन बैंक
6. एलआईसी म्यूचुअल फंड
 

अधिकृत सेवा प्रदाता
इन्जेनिको ग्रुप : वेबसाइट इन बैंकों के माध्यम से प्रीमियम एकत्र करता है
बिल डेस्क: वेबसाइट इन बैंकों के माध्यम से प्रीमियम एकत्र करता है

यह सुविधा सभी ग्राहकों के लिए बिल्कुल मुफ्त है। इस सुविधा के लिए ग्राहकों को एलआईसी / बैंक / सेवा प्रदाता को कोई शुल्क नहीं देना है। एलआईसी/बैंक/ सेवा प्रदाता को पूर्व निर्धारित दरों के अनुसार सेवा शुल्क का भुगतान करती है। इस योजना के तहत भुगतान की अनुमति केवलवार्षिक, अर्धवार्षिक और त्रैमासिक मोड केपॉलिसीयोके लिए है।

यह सुविधा केवल लागू, गैर-यूलिप,गैर-एसएसएसपॉलिसीयोके लिए वार्षिक, अर्धवार्षिक और त्रैमासिक मोड केतहत ली जा सकती है। मासिकमोड और नचके तहत पंजीकृत पॉलिसीई.बी.पि.पि.के तहत पंजीकृत नहीं हो सकती हैं। यूलिप, हेल्थ इंश्योरेंस और ई-टर्म पॉलिसी के लिए प्रीमियम का भुगतान इस मोड के माध्यम से नहीं किया जा सकता है।

पॉलिसी धारक को अपनी पॉलिसी बैंकर / सर्विस प्रोवाइडर की वेब साइट पर पंजीकृत करनी होगी जो सत्यापन के लिए पोलिसी को को एल.आई.सी.को भेजेगा। एलआईसी क्रेडिट कार्ड रखने वाले पॉलिसीधारक और बिल भुगतान विकल्प के तहत पंजीकरण करना चाहते हैं, उसेwww.liccards.co.in/images/LIC_SI_Form.pdf पर उपलब्धएलआईसी प्रीमियम भुगतान पंजीकरण फॉर्म भरना है। और इसे एलआईसी कार्ड सपोर्ट, एक्सिस बैंक लिमिटेड, 5 वीं मंजिल, सोलारिस सी-विंग, एल एंड टी गेट नं 6के सामने, विहार रोड, अंधेरी (पूर्व), मुंबई 400 072इस पते परभेजना है।

पोलिसी को सत्यापित करने वाला एक पत्र एल.आई.सी., बैंकर/सेवा प्रदाता को स्वीकृति भेजेगा। किसी भी कारण से, यदि एलआईसी पंजीकरण को अस्वीकृत कर दिया (कालातीत पॉलिसी के मामले में, प्रीमियम गलत मैच, ब्यौरे को गलत तरीके से प्रवेश किया), उसी के बारे में जानकारी पॉलिसीधारक को एलआईसी / बिल भुगतान सेवा प्रदाता द्वारा भेजा जाएगा। ऐसे मामले में पॉलिसी को फिर से पंजीकृत किया जाना है। पुराना पंजीकरण रद्द माना जाता है।
एलआईसी से इनवॉइस नियत तारीख से 5 दिन पहले उत्पन्न हो जाएगा जो अनुग्रह के दिनों तक वैध है और बैंकर को उनकी साइट पर अपलोड करने के लिए भेजा गया है। प्रीमियम का भुगतान या तो किसी विशेष तिथि (ऑटो पे) पर बैंक खाते / क्रेडिट कार्ड खाते से डेबिट करने के लिए बैंक को स्थायी निर्देश देकर या मैन्युअल रूप से उस बिल को स्वीकार करने के लिए किया जा सकता है जो बैंक की साइट पर लॉगिन करके और भुगतान ऑनलाइन कर सकता है ( देखें और भुगतान करें)। पुराने पंजीकरण के मामले में एलआईसी द्वारा भुगतान के दो या तीन दिनों के बाद पॉलिसी रिकॉर्ड में वर्णित पते पर रसीद को पोस्ट किया जाएगा । जुलाई’2016 तिथि से सभी नए पंजीकरण के लिए ई रसीद अनिवार्यहै और उसेरजिस्टर्ड ईमेलआईडी पर भेज दिया जाएगा।

यदि ईबीपीपी के माध्यम से भुगतान करने से पहले प्रीमियम का भुगतान किसी अन्य मोड से किया जाता है या प्रीमियम राशि आवश्यक प्रीमियम के साथ मेल नहीं खाती है, तो ईबीपीपी के माध्यम से प्राप्त भुगतान रिफंड में जाता है और बैंक / क्रेडिट कार्ड खाते में सीधे क्रेडिट द्वारा राशि वापस कर दी जाती है । यह प्रक्रियाकेलिए 15 दिनका कार्यकाल लग सकता है।

एटीएम भुगतान

प्रीमियम का भुगतान निम्नलिखित बैंकों के एटीएम के माध्यम से किया जा सकता है:
1. एक्सिस बैंक
2. कॉर्पोरेशन बैंक
यह सुविधा सभी ग्राहकों के लिए बिल्कुल मुफ्त है। इस सुविधा के लिए एलआईसी / बैंक को कोई शुल्क नहीं देना होता है।  

ग्राहक को बैंक की वेबसाइट के माध्यम से अपनी नीतियों को पंजीकृत करना होगा। बैंक से आवश्यक प्रारूप / शासनादेश के अनुसार पंजीकरण डेटा बैंक में जमा किया जाना है।

बैंक अगले कार्यदिवस में पंजीकृत सभी नीतियों के लिए आवश्यक प्रारूप में पीसीएमसी को पंजीकरण डेटा भेजता है।

इस योजना के तहत भुगतान की साधारण विधि अर्थात् वार्षिक, अर्धवार्षिक और त्रैमासिक मोड भुगतान की अनुमति है।

इस योजना के तहत मासिक साधारण और मोड के साथ पोलिसीयो की अनुमति नहीं है। पंजीकरण के समय पोलिसी चालु होनी चाहिए। इस योजना के तहत युलिप, स्वास्थ्य और ई-टर्म योजनाओं की अनुमति नहीं है।

यदि एटीएम के माध्यम से भुगतान प्राप्त करने से पहले प्रीमियम का भुगतान किसी अन्य मोड के माध्यम से किया जाता है या प्रीमियम राशि आवश्यक प्रीमियम के साथ मेल नहीं खाती है, तो एटीएम के माध्यम से प्राप्त भुगतान रिफंड में जाता है और बैंक खाते में सीधे क्रेडिट द्वारा राशि वापस कर दी जाती है। रिफंड में लगभग 15 दिन का समय लग सकता है।

इस योजना के लिए सभी प्रसंस्करण पीसीएमसी, मुंबई द्वारा बिलपे के समान किए जाएंगे।

फ्रेंचाइजी और बैंकों के माध्यम से प्रीमियम का संग्रह

निम्नलिखित बैंक एल.आई.सी.पोलिसी प्रीमियम जमा करने के लिए अधिकृत हैं :

1. एक्सिस बैंक(सूची के लिए यहां क्लिक करें)
2. सिटी यूनियन बैंक (सूची के लिए यहां क्लिक करें)
3. आईडीबीआई बैंक (सूची के लिए यहां क्लिक करें)

बैंक द्वारा जारी हस्ताक्षरित रसीद एक वैध रसीद है और एलआईसी द्वारा कोई अन्य रसीद जारी नहीं की जाएगी। प्रीमियम स्थिति को वास्तविक समय के आधार पर अपडेट किया जाएगा ।
 

प्रीमियम संग्रह के लिए प्रासंगिक स्थितियां

1. बैंक के एक्सटेंशन काउंटर की किसी भी शाखा में प्रीमियम का भुगतान किया जा सकता है।
2. प्रीमियम केवल उस बैंक में तैयार किए गए चेक या नकदमें जमाकिया जा सकता है ।
3. प्रीमियम का भुगतान केवल चालु , गैर-यूलिप, गैर-एसएसएस पोलिसी के लिए किया जा सकता है ।
4. यूलिप, स्वास्थ्य और ई-टर्म पोलिसी के लिए प्रीमियमजमा नहीं किया जा सकता।
5. प्रीमियम की स्वीकृति देय तिथि से 30 दिन पहले तक की जा सकती है।
6. विलंब शुल्क की गणना @ वर्तमान दर अर्थात 9.5% है। न्यूनतम विलंब शुल्क रु। 5/-है।
7. अगले वित्तीय वर्ष के लिएप्रीमियमजमा नहीं किया जा सकता है । उदा. मार्च महीनेमें अप्रैल महीने काप्रीमियम जमा नहीं किया जा सकता ।
 

अधिकृत केंद्रों के माध्यम से प्रीमियम संग्रह

कई सेवा प्रदाता, जिनमें सरकारी और निजी लिमिटेड कंपनियां शामिल हैं, एलआईसी पॉलिसियों के लिए प्रीमियम इकट्ठा करने के लिए फ्रैंचाइज़ी हैं। संग्रह केंद्रों द्वारा जारी हस्ताक्षरित रसीद एक वैध रसीद है और एलआईसी द्वारा कोई अन्य रसीद जारी नहीं की जाएगी। प्रीमियम स्थिति को वास्तविक समय के आधार पर अपडेट किया जाएगा।
 

इन फ्रेंचाइजी के माध्यम से प्रीमियम संग्रह के लिए प्रासंगिक स्थितियां

1. प्रीमियम केवल नकदमें एकत्र किया जा सकता है ।
2. प्रीमियम का भुगतान केवल चालु , गैर-यूलिप, गैर-एसएसएस पोलिसी के लिए किया जा सकता है ।
3. यूलिप, स्वास्थ्य और ई-टर्म पोलिसी के लिए प्रीमियमजमा नहीं किया जा सकता ।
4. प्रीमियम की स्वीकृति देय तिथि से 30 दिन पहले तक की जा सकती है।
5. विलंब शुल्ककी गणना वर्तमान दर अर्थात 9.5% है। न्यूनतम विलंब शुल्क रु। 5/- है।
6. अगले वित्तीय वर्ष के लिएप्रीमियम जमा नहीं किया जा सकता है । उदा. मार्च महीनेमें अप्रैल महीनेका प्रीमियम जमा नहीं किया जा सकता है।
इसमाध्यम से प्रीमियम भुगतान की सुविधा ग्राहकों के लिए बिल्कुल मुफ्त है। किसी भी सेवा प्रदाता के पास भुगतान करने के लिए कोई सेवा शुल्क / अतिरिक्त राशि नहीं है।

निम्नलिखित सेवा प्रदाताओं को एलआईसी पोलिसी को के लिए प्रीमियम जमा करने के लिए फ्रेंचाइजी दी है:

1. ए.पी.टी. (APT)ऑनलाइन

यह आंध्र प्रदेश सरकार का आधिकारिक पोर्टल है।
इस संग्रह चैनल के माध्यम से प्रीमियम का भुगतान आंध्र प्रदेश और तेलंगाना राज्य में किया जा सकता है ।

कृपया एपी ऑनलाइन संग्रह केंद्रों के लिए https://aponline.gov.in/frptool/districtwisefranchiseedetails.aspx पर क्लिक करें ।अधिक जानकारी के लिए कृपया www.aponline.gov.in पर जाएं ।
 

2. एमपी (MP) ऑनलाइन

यह मध्य प्रदेश सरकार का आधिकारिक पोर्टल है।
इस संग्रह चैनल के माध्यम से प्रीमियम का भुगतान केवल मध्य प्रदेश राज्य में किया जा सकता है ।
कृपया एमपी ऑनलाइन संग्रह केंद्रोंके लिए www.mponline.gov.inपर क्लिक करें

3. सुविधा इन्फोसर्वप्रायवेटलिमिटेड

यह एक छत के नीचे कई तरह की उपभोक्ता सेवाएं प्रदान करने वाली एस-कॉमर्स कंपनी है।
उनका टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 180022 5225 है। अधिक जानकारी के लिए www.suvidha.com पर क्लिक करें ।
कलेक्शन सेंटर के लिए यहां क्लिक करे।

4. सीएससी ई-गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड

पूरे भारत में कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) में प्रीमियम का भुगतान किया जा सकता है। कृपया आउटलेट्स के लिए http://locator.csccloud.in/पर क्लिक करें । अधिक जानकारी के लिए कृपया www.csc.gov.inदेखें।

5. पेटीएम ऐप के माध्यम से प्रीमियम संग्रह

पेटीएम ऐप के माध्यम से बीमा श्रेणी के तहत एल.आई.सी.लोगो पर क्लिक करके प्रीमियम का भुगतान किया जा सकता है ।
पेटीएम ऐप पर एलआईसी प्रीमियम रसीद डाउनलोड करने के लिए, पॉलिसीधारक से अनुरोध है कि वह पेटीएम ऐप पर " मेराऑर्डर" अनुभाग पर जाएं, ऑर्डर का चयन करें और "डाउनलोड रसीद" पर क्लिक करें । एलआईसी द्वारा कोई अन्य रसीद जारी नहीं की जाएगी।प्रीमियम स्थिति को वास्तविक समय के आधार पर अपडेट किया जाएगा।

6. “इनस्टापे” के माध्यम से प्रीमियम संग्रह

एलआईसी पॉलिसीधारकों को नवीकरण प्रीमियम के ऑनलाइन भुगतान की सुविधा को बढ़ाने के लिए, "इनस्टापे सेवा" के तहत एक नया विकल्प जो भारत में सभी बैंकिंग प्लेटफार्मों में उपलब्ध है, को मौजूदा बिल डेस्क समर्थित प्लेटफॉर्म के माध्यम से एकीकृत किया गया है। बैंक ग्राहकों द्वारा अपने बिलों का भुगतान करने के लिए व्यापक रूप से उपयोग किए जाने वाले अनुसूचित बैंकों के बैंकिंग अनुप्रयोगों पर यह एक मौजूदा उपयोगकर्ता के अनुकूल सेवा है। संक्षेप में, एलआईसी नीतियों के नवीकरण प्रीमियम भुगतान के परिप्रेक्ष्य में सेवा निम्नानुसार कार्य करेगी:

1. ग्राहक ब्राउज़र में अपने बैंक की वेबसाइट खोलेगा या अपने मोबाइल डिवाइस पर बैंकिंग ऐप का उपयोग करेगा।
2. पे बिल का चयन करें ।
3. बिलर की श्रेणी के रूप में "बीमा" चुनें।
4. "बीमा" पर क्लिक करें और ड्रॉपडाउन मेनू में बीमा कंपनियों की सूची देखें ।
5. भारतीय जीवन बीमा निगम पर क्लिक करें।
6. पॉलिसी नंबर, नाम, ईमेल पता, मोबाइल नंबर की कुंजी लगाकर आगे बढ़ें। प्रीमियम देय तिथियां, कुल देय राशि (जीएसटी के साथ, विलंब शुल्क यदि कोई हो) एलआईसी ग्राहक पोर्टल से प्राप्त की जाती है और ग्राहक को प्रदर्शित की जाती है।
7. ऑनलाइन भुगतान ग्राहक के नेट बैंकिंग सक्षम खाते से तुरंत "सबमिट" पर क्लिक करने पर होता है।
8. इंस्टापे सुविधा के माध्यम से भुगतान करने की सीमा रु। 50000.00 प्रति लेनदेन है।
9. लेन-देन के लिए कोई शुल्क नहीं है।
10. ई रसीद को डिस्प्ले स्क्रीन में लेनदेन शुरू करने के समय ग्राहक के ईमेल पते पर ईमेल किया जाता है।
11. ग्राहक के डिवाइस पर पीडीएफ के रूप में ई रसीद डाउनलोड करने का विकल्प है।

वर्तमान में यह सेवा 24 अनुसूचित बैंकों के माध्यम से दी गई है (सूची के लिए यहां क्लिक करें)

प्रीमियम संग्रह के माध्यम

1. ईमपोवर्ड एजेन्ट (प्रीमियमपोइन्ट)

18/09/2007से चयनित एजेंटों कोनकदया चेकऔर पोस मशिन द्वारा से प्रीमियमइकट्ठा करने के लिए अधिकृतकियागया हैं। एक वैध रसीद उनके हस्ताक्षर के साथ जारी की जाएगी और एलआईसी द्वारा कोई अन्य रसीद जारी नहीं की जाएगी ।प्रीमियम स्थिति को वास्तविक समय के आधार पर अपडेट किया जाएगा।

 

2. सीनिअर बीजनेस असोसिएट (जीवन प्लस कार्यालय)

इस चैनल के माध्यम से प्रीमियम कलेक्शन 01/06/2009 से शुरू किया गया है। सीनिअर बीजनेस असोसिएटकुछ शर्तों के आधार पर चुने गए विकास अधिकारी हैं। यह योजना पात्रता मानदंड केंद्रीय कार्यालय, विपणन विभाग द्वारा तय की गई है।

3. एलआईसी के सेवानिवृत्त कर्मचारी(प्रीमियमपोइन्ट)

01/09/2010 सेएल.आई.सी.की ओर सेअधिकृतसेवानिवृत्त एलआईसी कर्मचारियों को चेक या नकदमें प्रीमियम एकत्र करने और उनके हस्ताक्षर के साथ एक वैध रसीद जारी करने के लिए अधिकृत किया है।

4. एलआईसी एसोसिएट (जीवन प्लस कार्यालय)

एलआईसी एसोसिएट प्रीमियम संग्रह 2016/01/07 से शुरू कर दिया है। एलआईसी एसोसिएट (एलआईसीए) कुछ शर्तों के आधार पर चुने गए सेवानिवृत्त विकास अधिकारी हैं। इस योजना के लिए पात्रता मानदंड केंद्रीय कार्यालय, विपणन विभाग द्वारा तय किया जाता है।

5. चीफ ओर्गनायझर(एलआईसी डायरेक्ट मार्केटिंग)

चीफ ओर्गनायझर के माध्यम से प्रीमियम संग्रह 05/09/2018 से शुरू किया गया है। इस योजना के लिए पात्रता मानदंड केंद्रीय कार्यालय, प्रत्यक्ष विपणन विभाग द्वारा तय किया गया है।

प्रीमियम संग्रह के लिए प्रासंगिक स्थितियां ।

1. केवल ई-टर्म प्लान (तालिका 825) को छोड़कर , सभी प्लान के तहत साधारण पोलिसी के लिए प्रीमियमजमा किया जा सकता है।
2. वेतन बचत योजना (SSS) मोड के पोलिसी के लिए प्रीमियम इस चैनल के माध्यम से जमा नहीं किया जा सकता ।
3. नाच मोड के लिए प्रीमियम का भुगतान इस चैनल के माध्यम से नहीं किया जा सकता । हालांकि, प्रीमियम तभी स्वीकार किया जाएगा, जब अंतिम नच लेनदेन को अस्वीकार कर दिया गया हो और नच मँनडेट की पेंडेंसी के दौरान ।
4. यूलिप, स्वास्थ्य पोलिसी को के लिए भी नवीनीकरण प्रीमियमजमा किया जा सकता है।
5. प्रीमियम का भुगतान नकद औरचेक के माध्यम से किया जा सकता है । बाहरी चेकों को स्वीकार नहीं किया जाता। प्रायोगिकआधार पर प्रीमियम पॉइंट्स पर पीओएस टर्मिनल भी दिया हुआहैं।
6. विलंब शुल्ककी गणना @ वर्तमान दर अर्थात 9.5% है। न्यूनतम विलंब शुल्क रु। 5/-है।
7. प्रीमियम की स्वीकृति देय तिथि से 30 दिन पहले तक की जा सकती है।
8. अगले वित्तीय वर्ष के लिएप्रीमियम जमा नहीं किया जा सकता । उदा. मार्च महीनेमें अप्रैल महीनेका प्रीमियम जमा नहीं किया जा सकता ।
9. डुप्लिकेट भुगतान से बचने के लिए इलेक्ट्रॉनिक डेबिट के बिल पे विकल्प के तहत पोलिसीपहले से पंजीकृत होने पर इस चैनल के माध्यम से प्रीमियम का भुगतान करने से बचना उचित है ।
10. इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए पॉलिसी धारकों को कोई सेवा शुल्क नहीं देना पड़ता है।

एलआईसी पोर्टल

ऑनलाइन प्रीमियम भुगतान कुछ ही क्लिक के भीतर प्रीमियम संग्रह सेवा प्रदान करने के लिए एल.आई.सी.की पहल है! एलआईसी पोर्टल के माध्यम से प्रीमियम रियल टाइम के भुगतान के लिए प्रदान करता है । प्रीमियम भुगतान की सुविधा एल.आई.सी.की वेबसाइट www.licindia.in पर पंजीकृत और गैर पंजीकृत ग्राहकों दोनों के लिए उपलब्ध है। गैर पंजीकृत ग्राहकPAY DIRECT विकल्प का उपयोगकरे ।
प्रीमियम केवल बल के लिए एकत्रित किया जा सकता है, सभी प्रकार के तहत साधारण नीतियां ।

प्रासंगिक स्थितियां:

1. प्रीमियम केवल साधारण पोलिसी (वार्षिक, अर्धवार्षिक, त्रैमासिक और मासिक साधारण)के लिए जमाकिया जा सकता है।
2. वेतन बचत योजना (SSS) मोड के तहत पोलिसी को के लिए प्रीमियम का भुगतान ऑनलाइन नहीं किया जा सकता ।
3. नाच मोड के लिए प्रीमियम का भुगतान ऑनलाइन नहीं किया जा सकता । हालाँकि प्रीमियम केवल तभी स्वीकार किया जाएगा जब अंतिम नच लेन-देन अस्वीकार हो ।
4. यूलिप, स्वास्थ्य पोलिसी को के लिए भी प्रीमियमजमाकिया जा सकता है।
5. विलंब शुल्क की गणना @ वर्तमान दर अर्थात 9.5% है। न्यूनतम विलंब शुल्क रु। 5/- है।
6. प्रीमियम की स्वीकृति देय तिथि से 30 दिन पहले तक की जा सकती है।
7. इलेक्ट्रॉनिक डेबिटबिल-पे विकल्प के तहत पोलिसीपहले से ही पंजीकृतहोने परडुप्लिकेट भुगतान से बचने के लिए इस चैनल के माध्यम से प्रीमियम का भुगतान करने से बचना उचित है ।

अग्रिम में प्रीमियम भुगतान की सुविधा

1. पॉलिसीधारक अग्रिम रूप से प्रीमियम जमा कर सकता है, अधिकतम देय एस के अधीन अर्थात वित्तीय वर्ष के अंत तक। उदाहरण के लिए प्रीमियम की वजह तक 31 सेंट मार्च चालू वित्त वर्ष मेंजमाकिया जा सकता है।
2. अगले वित्तीय वर्ष के प्रीमियम भी प्रीमियम की देय तिथि से तीन महीने की अधिकतम अवधि के लिए अग्रिम में जमा किया जा सकता है ।
इन लेनदेन के लिए अग्रिम प्रीमियम के लिए जमा रसीद उत्पन्न की जाएगी। नियत तारीख पर, अग्रिम जमा के खिलाफ समायोजन किया जाएगा और ई-रसीद पॉलिसीधारक द्वारा पंजीकृत ईमेल आईडी पर भेजी जाएगी और यह उसके पोर्टल खाते में भी उपलब्ध होगी।

ऑनलाइन ऋण सुधार और ऋण ब्याज भुगतान

पॉलिसीधारक सर्विसिंग शाखा में आए बिना अपने बकाया पॉलिसी ऋण और ऋण ब्याज भुगतान को ऑनलाइन चुका सकता है । विकल्प ऑनलाइन भुगतान टैब के तहत ग्राहक पोर्टल में उपलब्ध है। पॉलिसी नंबर, इंश्योरेंस प्रीमियम, डेट ऑफ बर्थ, मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी जैसी प्रासंगिक जानकारी मेंप्रदान करने के बाद पॉलिसीधारक PAY DIRECT विकल्प का उपयोग करके भी इसका भुगतान कर सकते हैं। ई-रसीद पॉलिसीधारक द्वारा पंजीकृत ईमेल आईडी पर भेजी जाएगी और यह उसके पोर्टल खाते में भी उपलब्ध होगी।
एक ग्राहक को एक ही दिन में दो ऋण चुकौती लेनदेन का प्रयास नहीं करना चाहिए , यदि राशि उसके बैंक खाते से डेबिट की जाती है। इसके परिणामस्वरूप गलत ब्याज गणना या लेनदेन का दोहराव हो सकता है।
 

इस सुविधा का उपयोग करके प्रीमियम भुगतान के बारे में एक सरल चरण-दर-चरण मार्गदर्शिका है:

उपयोगकर्ता-आईडी प्राप्त करने के बाद पोलिसी को को एलआईसी वेबसाइट पर नामांकित किया जाना है। नामांकन सही प्रीमियम राशि के साथ होना चाहिए। जीवनसाथी और नाबालिग बच्चों के जीवन पर पोलिसी को को उसी यूजर-आईडी के तहत नामांकित किया जा सकता है, क्योंकि पॉलिसी में बताई गई जन्म तिथि प्रोफाइल में समान है। यदि जन्म तिथि मेल नहीं खाती है, तो पोलिसी को को नामांकित नहीं किया जा सकता है।
 

पोलिसी को के नामांकित होने के बाद, उन पोलिसी को की सूची जहां प्रीमियम / ऋण ब्याज देय है, लिंक पर क्लिक करके देखा जा सकता है, " ऑनलाइन भुगतान" ।

जिन पोलिसी को के लिए प्रीमियम का भुगतान करना होता है, उन्हें चयन बॉक्स में क्लिक करके चुना जाता है।

" चेक और पे " बटन पर क्लिक करने से पहले , पॉलिसीधारक को स्क्रीन पर प्रदर्शित निर्देशों को पढ़ना चाहिए। “ प्रीमियम का भुगतान केवल आपके स्वामित्व वाली पॉलिसी पर किया जाना चाहिए। एक रसीद आपके पंजीकृत ईमेल पर भेज दी जाएगी। आईडी प्रीमियम रसीद उत्पन्न / त्रुटि पृष्ठ प्रदर्शित नहीं होती है: यदि प्रीमियम राशि आपके बैंक खाते से डेबिट की जाती है, लेकिन त्रुटि पृष्ठ प्रदर्शित होता है, तो रसीद आपके ईमेल-आईडी पर तीनदिन में भेज दी जाएगी। अपने बैंक से पुष्टि प्राप्त करने के बाद रसीद तीन कार्य दिवसों में प्राप्त नहीं है, तो आप bo_eps1@एल.आई.सी.india.com रिपोर्ट कर सकते है।अगर पुन: प्रयास किया:तो कृपया पहले जांचें कि क्या आपका बैंक खाता पहले से लेनदेन की राशि के साथ पहले से ही डेबिट है। यदि डेबिट किया गया है तो फिर से भुगतान न करें। रसीद ऊपर बताए अनुसार भेजी जाएगी। "
निम्नलिखित बैंकों के साथ नेट बैंकिंग खातों का उपयोग करके एलआईसी प्रीमियम का भुगतान किया जा सकता है : प्राधिकृत बैंकों के लिए यहां क्लिक करें । भुगतान के अन्य तरीके हैं डेबिट-कार्ड (विसा/मास्टर/रुपे) , वालेट, पेमेंट बैंक, युपिआईऔर क्रेडिट कार्ड (अमेक्स/ विसा/मास्टर/रुपे)। डेबिट-कार्ड, नेट-बैंकिंग, वॉलेट और यूपीआई के माध्यम से भुगतान के लिए कोई शुल्क नहीं है

क्रेडिट कार्ड के माध्यम से भुगतान "सुविधा शुल्क " के अधीन है । विकल्प चुनने के बाद, विकल्प "सुविधा शुल्क" क्रेडिट कार्ड से भुगतान के लिए प्रदर्शित किया जाता है। यह शुल्क एलआईसी द्वारा एकत्र नहीं किया जाता है, लेकिन कार्ड नेटवर्क को भुगतान किया जाता है।
पोर्टल / पे डायरेक्ट के माध्यम से भुगतान की प्रीमियम रसीद ऑनलाइन प्रिंट की जा सकती है और उसी समय पॉलिसी होल्डर को ई-मेल भी किया जाएगा। इसके साथ ही सफल / असफल लेनदेन संदेश फ्लैश किया जाएगा।
यदि प्रीमियम राशि पॉलिसीधारक के बैंक खाते से डेबिट की जाती है, लेकिन त्रुटि पृष्ठ प्रदर्शित होता है, तो यह समय समाप्त होने या नेटवर्क त्रुटि के कारण हो सकता है। ऐसे मामले में उनके बैंक से पुष्टि प्राप्त करने के बाद तीन कार्य दिवसों में उनकी प्रोफाइल ईमेल आईडी पर एक रसीद भेजी जाएगी। प्रीमियम रसीद उसके पोर्टल के तहतमाय ऐप->बेसिक सर्विसेज->ऑनलाइन भुगतान प्राप्तियों के तहत भी उपलब्ध होगी ।
पॉलिसी धारक को उसी कारण से दूसरे भुगतान के लिए प्रयास करने से पहले बैंक खाते की जांच करनी चाहिए। यदि बैंक खाते में डेबिट किया जाता है तो उनसे अनुरोध किया जाता है कि वे दूसरे भुगतान के लिए प्रयास न करें।
यदि राशि एक ही कारण से दो बार डेबिट की जाती है , तो इसे सेवा प्रदाता को वापस कर दिया जाता है , जो बदले में ग्राहक के बैंक / कार्ड जारीकर्ता को राशि हस्तांतरित करता है ।

लाभ

· यह पोलिसी को के एक बार नामांकन के साथ एक सरल प्रक्रिया है।
· प्रीमियम का भुगतान कभी भी और कहीं भी किया जा सकता है।
· वैध प्रीमियम रसीद तुरन्त प्राप्त होती है।
· यह एक सुरक्षित व्यवस्था भी है, क्योंकि पॉलिसी डेटा एल.आई.सी.और सेवा प्रदाता के बीच साझा नहीं किया जाता।
· वहाँ डेबिट कार्ड / नेट-बैंकिंग / वालेट, पेमेंट बैंक, युपिआई के माध्यम से किए गए भुगतान के लिए न हीं शुल्क नहीं है।

 

किसी भी और स्पष्टीकरण के लिए कृपया हमारे एसएमएस हेल्पलाइन का उपयोग करें।SMS LICHELP <पॉलिसी नंबर> और इसे 92224 92224 पर भेजें। हमारा ग्राहक ज़ोन अधिकारी शीघ्र ही आपको संपर्क करेगा।
LIC कॉल सेंटर सेवाएँ भी 022-68276827 पर 24 x 7 उपलब्ध है।

Top